सेल्फी पड़ी जान पर भारी : तालाब में फोटो खिंचाते समय महिला का पैर फिसला

इंदौर। सेल्फी जान पर भारी पड़ गई, तालाब में फोटो खिंचाते समय महिला का पैर फिसला। भोपाल रोड पर देवास के पास राजानल तालाब में परिवार वालों के साथ फोटो सेशन करते वक्त आठ महिला-लड़कियां डूब गईं। इनमें से 13 साल की बच्ची की जान चली गई। बाकी सात को आसपास के चरवाहों और गांववालों ने बचा लिया। बच्ची का शव 19 जनवरी की सुबह मिला।
आठवीं की छात्रा नुज्जत इंदौर जिले के सांवेर क्षेत्र की रहने वाली थी।

लॉकडाउन के बाद वह पहली बार अपने घर से निकलकर देवास जिले के खटाम्बा में फूफी रूखसाना के यहां आई थीं। रूखसाना, नुज्जत के साथ गांव-परिवार की अन्य छह महिला और लड़कियां पिकनिक के लिए निकली थीं। खटाम्बा गांव से वे जंगल तरफ घूमते-घूमते डेढ़ किलोमीटर दूर राजानल तालाब पहुंच गईं। इस तालाब में लबालब पानी भरा हुआ है और देवास शहर के बड़े हिस्से में यहीं से सप्लाई होती है।

तालाब में सबसे पहले रूखसाना गिरी, उसको बचाने फिर सब कूदे

वे पानी के बिल्कुल करीब पहुंच गईं और उतरकर भी फोटो खिंचवाने लगीं। फोटो खिंचाते समय ध्यान नहीं रहने से वे गहरे पानी के तरफ बढ़ती गईं। रूखसाना सबसे पहले फिसलकर तालाब में चली गईं तो साथ आईं सलमा उसे बचाने कूद पड़ीं। रूखसाना बच गईं लेकिन सलमा डूब गईं। इसके बाद अन्य सभी घबराहट में एक-दूसरे को बचाने कूद गईं। चिल्ला पुकार सुनकर आसपास के चरवाहे, मछुआरे और गांव के लोग पहुंच गए।

रूखसाना, सलमा सहित सात महिला-बच्चियों को बचा लिया गया लेकिन छात्रा नुज्जत का पता नहीं चल रहा था। इस घबराहट में अन्य परिजन फिर से न कूद जाएं, इसलिए घेराबंदी कर अन्य सभी सात को तालाब से दूर लाया गया। तलाशी अभियान शुरू हुआ लेकिन रात होने से रोकना पड़ा। इसके बाद 19 जनवरी की सुबह फिर से तलाशी की गई तो करीब 8 बजे नुज्जत का शव मिला।

यह भी पढ़े : अक्षय कुमार की फैंस और फॉलोअर्स से राम मंदिर के लिए दान देने की अपील

Rama Yadav

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *