70 करोड़ की एमडीएमए ड्रग्स तस्करी का आरोपी वेदप्रकाश पकड़ाया

इंदौर। 70 करोड़ की एमडीएमए ड्रग्स की तस्करी का आरोपी वेदप्रकाश पकड़ाया। एमडीएमए ड्रग्स की तस्करी का आरोपी वेदप्रकाश व्यास दवा बाजार में दुकान संचालित कर था। वह दवा बाजार में ‘पैराडाइम’ नाम से एजेंसी संचालित कर रहा था। ड्रग का मामला सामने आते ही दुकान मालिक ने दुकान से बोर्ड हटवा दिया। बाजार के कारोबारी स्वीकार कर रहे हैं, कि गिरफ्तारी के पहले तक वेदप्रकाश खुद दुकान पर नजर आता था।

शहर के कई दवा सप्लायरों से आरोपी वेदप्रकाश के सीधे लेन-देन के साथ रिश्तों की बात भी सामने आ रही है। आरोपी वेदप्रकाश ने दवा बाजार में तीसरी मंजिल पर दुकान में उसने ठिकाना बनाया था। दवा बाजार के व्यापारियों के मुताबिक ये एजेंसी जेनरिक दवाओं और सर्जिकल आइटम्स का माल सप्लाई करने वाली बताई जाती है। वह यहां बैठकर भी तस्कर गोरखधंधा करता रहा। दवा बाजार के व्यापारियों के मुताबिक जैसे ही ड्रग्स तस्करी का खुलासा हुआ, तो दुकान मालिक ने सामान बाहर निकलवा दिया।

एमडीएमए ड्रग्स का गोरखधंधा आरोपी ने दो साल में फैलाया था

साइन बोर्ड से लेकर दुकान तक की पुताई करवा दी। इंदौर में 100 करोड़ की ड्रग्स खपा चुका है गिरोह, अलग-अलग तरीके से लाता था नशा, बांट रखे थे। व्यापार की शुरुआत में वेदप्रकाश पहले टाइल्स के गोदाम पर मैनेजर था। बाद में टाइल्स व्यापारी से उसने दवा कंपनी शुरू की। इसके बाद व्यास ने खुद दवा कैप्सूल के पेलेट्स बनाने का काम शुरू करने की बात कही। इंदौर में उसने कई दवा कारोबारियों को एजेंट नियुक्त किया था। व्यास के कारोबार में हैदराबाद के स्थानीय कारोबारियों का पैसा लगे होने की बात भी सामने आ रही है।

हैदराबाद के कारोबार के लिए स्थानीय कारोबारियों ने भी पैसा दिया था। इससे पहले इंदौर के पोलोग्राउंड में डीआरआई भी फेंटानिल नामक सिंथेटिक ड्रग बनाने की फैक्टरी पकड़ चुकी है। व्यास के अवैध कारोबार में भी स्थानीय कारोबारी मददगार हो सकते हैं। निंबाहेड़ा के कुख्यात तस्कर गिरोह फिरोज लाला का नाम अदनान खान ने कबूला है। तस्कर लाला राजस्थान मुंबई उत्तर प्रदेश और गुजरात में कोकीन अफीम की सप्लाई करता था। आरोपी का संपर्क अंडरवर्ल्ड से भी है।

यह भी पढ़े : तांडव और त्रिभंग के मेकर्स को फिल्मों के लीक होने पर लगा बड़ा झटका

Rama Yadav

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *