भारत में 10 साल से छिपा इनामी बांग्लादेशी बदमाश गिरफ्तार, बांग्लादेश में मिली थी फांसी की सजा

भारत में 10 साल से छिपा इनामी बांग्लादेशी बदमाश गिरफ्तार, बांग्लादेश में मिली थी फांसी की सजा। बांग्लादेश में अपहरण और हत्या के मुकदमे में बेल मिलने के बाद मासूम उर्फ सरवर बॉर्डर पार कर भारत आ गया और बेंगलुरू में चुपचाप रहने लगा। वह दिल्ली के सीलमपुर में रहने वाले अपने रिश्तेदार से मिलने अक्सऱ दिल्ली आया करता था। पिछले 10 सालों से बॉर्डर पार कर हिंदुस्तान में छिप कर रह रहे बांग्लादेशी नागरिक को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

मासूम उर्फ सरवर नाम का यह शख्स कोई आम आदमी नहीं बल्कि बांग्लादेश में एक इनामी बदमाश है। इसे अदालत ने फांसी की सजा सुना रखी है। मासूम के ऊपर बांग्लादेश में अपहरण और हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ था। जिसमें साल 2013 में अदालत ने फांसी की सजा सुनाई थी। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, मासूम उर्फ सरवर ने साल 2005 में बांग्लादेश में अपने 5 साथियों के साथ मिलकर एक मासूम बच्चे का अपहरण किया था।

दिल्ली में है इन बांग्लादेशी गैंग की दहशत

उसके बाद अपने साथियों के साथ मिलकर उसकी निर्मम हत्या कर दी थी। मासूम को इस मामले में अदालत से बेल मिलने के बाद वह बॉर्डर पार कर हिंदुस्तान आ गया और यहां पर बेंगलुरु में चुपचाप रहने लगा। धीरे-धीरे कर इसने जाली हिंदुस्तानी कागजात बनवा लिए थे। राजधानी दिल्ली में सीलमपुर इलाके में रहने वाले अपने रिश्तेदारों से भी अक्सर मिलने आया करता था। राजधानी दिल्ली में लूट और डकैती की कई वारदातों में बांग्लादेशी गिरोह का हाथ सामने आया है।

बांग्लादेशी गिरोह अवैध रूप से दिल्ली और आसपास के शहरों में रहते हैं और रात में लूट की वारदातों को अंजाम देते हैं। कई ऐसे बांग्लादेशी गिरोह का भी दिल्ली पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। जो दिल्ली में वारदात को अंजाम देकर वापस बॉर्डर पार कर आसानी से बांग्लादेश पहुंच जाते हैं। इसके चलते इनकी गिरफ्तारी भी पुलिस के लिए बेहद मुश्किल हो जाती है।

यह भी पढ़े : मदरसे का मौलाना दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में, लड़कियों को अगवा कर करता था यौन शोषण

Rama Yadav

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *